मेघालय के यात्रा वृतांत

मेघालय, बादलों का घर, गरजने वाले नहीं बल्कि बरसने वाले, कई मायनों में अनूठा भारतीय राज्य है। 1972 में इसे असम से अलग करके पृथक भारतीय राज्य की मान्यता दी गई। इस प्रदेश का अनूठापन हर क्षेत्र में झरता है चाहे भाषा हो, कला हो, संस्कृति हो या आधुनिकता, कुछ भी। भारत में अगर वाकई नारी-उत्थान देखना हो तो मेघालय का रुख़ कीजिऐ। तो चलिये मेघालय के सफ़र पर, कुछ कदम मेरे साथ…

बड़ा पानी, लुम

शिलांग

पूर्वोत्तर का स्कॉटलैंड।

बड़ा पानी, लुम

मेघालय में नारी-सशक्तिकरण

मेघालय समाज-व्यवसथा पर एक नजर - स्थानीय मेघालय-वासी के साथ मेरे अनुभव।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें